तुलसीदास

तुलसीदास जी की जीवनी एवं साहित्य रचनाएं इस पोस्ट में हम तुलसीदास जी की जीवनी, साहित्य, रचनाएं एवं विशेष कथन संबंधी पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। पूरा नाम -गोस्वामी तुलसीदास बचपन का नाम- रामबोला जन्म- सन 1532 (संवत- 1589) जन्म भूमि- राजापुर, उत्तर प्रदेश (आचार्य रामचंद्र शुक्ल के अनुसार) कुछ इतिहासकार इनका जन्म स्थान ‘सोरों’ क्षेत्र … Read more

हालावाद विशेष

हिन्दी शब्दकोश में हालावाद हम पढ रहे हैं हालावाद, अर्थ, परिभाषा, प्रमुख हालावादी कवि, हालावाद का समय, विशेषताएं, हालावाद पर कथन, हालावादी काव्य पर विद्वानों के कथन। गणपतिचन्द्र गुप्त ने उत्तर छायावाद/छायावादोत्तर काव्य को तीन काव्यधाराओं में व्यक्त किया है- राष्ट्रीय चेतना प्रधान व्यक्ति चेतना प्रधान समष्टि चेतना प्रधान में बांटा है। इनमें से व्यक्ति … Read more

‘रासो’ शब्द की व्युत्पत्ति – विभिन्न मत

‘रासो’ शब्द की जानकारी ‘रासो’ शब्द की व्युत्पत्ति, अर्थ, रासो साहित्य, विभिन्न प्रमुख मत, क्या है रासो साहित्य?, रासो शब्द का अर्थ एवं पूरी जानकारी। ‘रासो’ शब्द की व्युत्पति तथा ‘रासो-काव्य‘ के रचना-स्वरूप के सम्बन्ध में विभिन्न विद्वानों ने विभिन्न प्रकार की धाराणाओं को व्यक्त किया है। डॉ० गोवर्द्धन शर्मा ने अपने शोध- प्रबन्ध ‘डिंगल … Read more

संस्मरण और रेखाचित्र

संस्मरण की परिभाषा अथवा संस्मरण किसे कहते हैं? संस्मरण | रेखाचित्र | परिभाषा | प्रवर्तक | संस्मरण साहित्य के प्रवर्तक | हिन्दी संस्मरण एवं रेखाचित्र : कालक्रमानुसार | पूरी जानकारी | स्मृति के आधार पर किसी विषय पर अथवा किसी व्यक्ति पर लिखित आलेख संस्मरण कहलाता है। रेखाचित्र की परिभाषा अथवा रेखाचित्र किसे कहा जाता … Read more

कामायनी के विषय में कथन

कामायनी के विषय में कथन इस आलेख में कामायनी के विषय में कथन, Kamayani पर महत्त्वपूर्ण कथन, Kamayani पर किसने क्या कहा? कामायनी पर विभिन्न साहित्यकारों एवं आलोचकों के विचार आदि के बारे में जानकारी देने का प्रयास किया गया है। कामायनी पर महत्त्वपूर्ण कथन Kamayani पर किसने क्या कहा? कामायनी को छायावाद का उपनिषद … Read more

रांगेय राघव (त्र्यंबक वीर राघवाचार्य)

रांगेय राघव (त्र्यंबक वीर राघवाचार्य) की जीवनी आधुनिक काल के साहित्यकार रांगेय राघव के जीवन-परिचय के साथ-साथ हम इनके साहित्य, काव्य, उपन्यास, कहानी, भाषा शैली, पुरस्कार एवं अन्य तथ्य सहित पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। पूरा नाम- तिरूमल्लै नंबकम् वीरराघव आचार्य (टी.एन.बी.आचार्य) जन्म -17 जनवरी, 1923 जन्म भूमि- आगरा, उत्तर प्रदेश मृत्यु -12 सितंबर, 1962 मृत्यु … Read more

श्रीधर पाठक

श्रीधर पाठक की जीवनी एवं साहित्य श्रीधर पाठक की जीवनी, साहित्य, रचनाएं, प्रबन्धात्मक काव्य, मौलिक प्रबन्धात्मक रचनाएं तथा श्रीधर पाठक से संबंधित विशेष तथ्य जन्म- 11 जनवरी 1859 निधन- 13 सितम्बर 1928 जन्म स्थान- जोधरी, आगरा, उत्तरप्रदेश, भारत काल- आधुनिक काल (द्विवेद्वी युग) श्रीधर पाठक की रचनाएं : श्रीधर पाठक की जीवनी एवं साहित्य (क) … Read more

कुंवर नारायण

कुंवर नारायण की जीवनी कुंवर नारायण का जीवन-परिचय, साहित्यिक-परिचय भाषा शैली, कविता कोश, रचनाएं, खंडकाव्य, मान-सम्मान एवं विशेष तथ्य आदि की जानकारी जन्म- 19 सितम्बर, 1927 मृत्यु- 15 नवंबर 2017 जन्म भूमि- फैजाबाद, उत्तर प्रदेश कर्म-क्षेत्र- कवि, लेखक युग- प्रयोगवाद व नई कविता युग के कवि कुंवर नारायण की रचनाएं : कुंवर नारायण जीवन-परिचय साहित्यिक-परिचय … Read more

रामविलास शर्मा

रामविलास शर्मा की जीवनी रामविलास शर्मा जीवन-परिचय, साहित्य-परिचय, आलोचना दृष्टि, निबंध, उपन्यास, नाटक, आत्मकथा, कविता संग्रह, भाषा शैली, रामविलास शर्मा की आत्मकथा आदि की संपूर्ण जानकारी जन्म -10 अक्टूबर, 1912 जन्म भूमि -उन्नाव ज़िला, उत्तर प्रदेश मृत्यु -30 मई, 2000 कर्म-क्षेत्र -आलोचक, निबंधकार, विचारक, कवि भाषा -हिंदी और अंग्रेज़ी विद्यालय -लखनऊ विश्वविद्यालय शिक्षा -एम.ए. (अंग्रेज़ी), … Read more

भारत का स्वर्णिम अतीत : तेल्हाड़ा विश्वविद्यालय

भारत का स्वर्णिम अतीत : तेल्हाड़ा विश्वविद्यालय इन्क्रेडिबल इंडिया: सबसे प्राचीन विश्वविद्यालय तेल्हाड़ा विश्वविद्यालय जैसी सांस्कृतिक विरासत का महत्त्व एवं ऐतिहासिक योगदान के बारे में जानकारी असतो मा सद्गमय। तमसो मा ज्योतिर्गमय। मृत्योर्मामृतं गमय।। बृहदारण्यकोपनिषद् का उक्त वाक्य भारतीय ज्ञान और ज्ञान प्राप्ति की तीव्र उत्कंठा को दर्शाता है। विश्व के ज्ञात इतिहास को परखे … Read more

Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error: Content is protected !!