राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार

राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार

राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार, राजस्थान के संभाग व जिले, भौतिक भाग, सीमाएँ, संभागों का वर्गीकरण, जिलों की स्थिति, राजस्थान के अक्षांश देशांतर आदि की जानकारी

अक्षांश देशांतर

ग्लोब के अनुसार भारत उत्तरी अक्षांश व पूर्वी देशांतर में अवस्थित है। ( उत्तरी गोलार्द्ध व पूर्वी देशांतर)

राजस्थान की भारत में स्थिति – उत्तर पश्चिम दिशा।

राजस्थान का अक्षांशीय विस्तार – 23° 3′ उत्तरी अक्षांश से 30° 12′ उत्तरी अक्षांश के मध्य

कुल अक्षांशीय विस्तार 7° 9′

राज्य का देशांतरीय विस्तार 69° 30′ पूर्वी देशांतर से 78° 17′ पूर्वी देशांतर के मध्य

कुल देशांतरीय विस्तार – 8° 47′

राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार Rajasthan Avasthiti vistar | सीमाएँ | संभागों का वर्गीकरण | जिलों की स्थिति | राजस्थान के अक्षांश देशांतर
राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार

कर्क रेखा राज्य के दक्षिणी (वासवाड़ा व डूंगरपुर) से होकर गुजरती है।

राज्य के बांसवाड़ा जिले में सूर्य का सर्वाधिक सीधा प्रकाश तथा गंगानगर जिले में सूर्य का सर्वाधिक तिरछा प्रकाश गिरता है।

सर्वप्रथम सूर्योदय – धौलपुर जिले में

सबसे बाद में सूर्योदय – जैसलमेर जिले में।

उत्तर से दक्षिण विस्तार 826 किमी.

पूर्व से पश्चिम विस्तार 869 किमी.

राज्य का कुल स्थलीय विस्तार – 5920 किमी. है।

अंतरराष्ट्रीय सीमा पाकिस्तान के साथ 1070 किमी.

अंतर राज्य सीमा 5 राज्यों के साथ-

मध्य प्रदेश – 1600 किमी. (सर्वाधिक)

हरियाणा – 1262 किमी

गुजरात – 1022 किमी

उत्तरप्रदेश – 877 किमी

पंजाब – 89 (सबसे कम)

कुल विस्तार 4850

राज्य का संपूर्ण क्षेत्रफल – 342239.74 वर्ग किमी. है।

राज्य की आकृति विषमकोणीय चतुर्भुज (पतंगाकार) है।

क्षेत्रफल की दृष्टि से राज्य का सबसे बड़ा जिला-  जैसलमेर (38401 वर्ग किमी.) सबसे छोटा जिला – धौलपुर (3034 वर्ग किमी)

पाकिस्तान के साथ लगने वाली सीमा रेखा को अंतर्राष्ट्रीय सीमा (रेडक्लिफ रेखा 1070 किमी. कहा जाता है।

यह सीमा रेखा श्री गंगानगर जिले के हिंदूमलकोट से लेकर बाड़मेर जिले के शाहगढ़ गांव तक विस्तृत है।

पाकिस्तान के साथ जैसलमेर जिले की (464 किमी) सर्वाधिक लंबी सीमा

बीकानेर कि जिले की (168 किमी) न्यूनतम सीमा लगती है।

अन्य जिले

श्रीगंगानगर 210 किलोमीटर

बाड़मेर 228 किलोमीटर

पाकिस्तान की सीमा रेखा के सर्वाधिक निकट जिला मुख्यालय – श्रीगंगानगर

सर्वाधिक दूरी का जिला मुख्यालय – बीकानेर

राज्य के दक्षिण पश्चिम में गुजरात राज्य के साथ में दक्षिण पूर्व में मध्यप्रदेश के साथ उत्तर पूर्व व पूर्व में पंजाब, हरियाणा व उत्तर प्रदेश राज्य के साथ लगती है।

राज्य के साथ सर्वाधिक लंबी अंतरराजीय सीमा – मध्य प्रदेश (1600 किमी)

न्यूनतम अंतरराजीय सीमा – पंजाब (89 किमी) है।

राजस्थान के कुल 25 जिले स्थलीय सीमा का निर्माण करते हैं।

इनमें से चार जिले अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तथा 23 जिले अंतरराजीय सीमा का निर्माण करते हैं।

राज्य में वर्तमान में कुल 33 जिले हैं। नवीनतम जिला – प्रतापगढ़ (26 जनवरी 2008)

राज्य के 8 जिले आंतरिक जिले हैं-

राजसमंद, जोधपुर, अजमेर, पाली, नागौर, टोंक, बूंदी

राज्य के 2 जिले अजमेर, चित्तौड़गढ़ खंडित अवस्था में हैं।

राजस्थान के संभाग 

राज्य में 7 संभाग हैं –

  1. बीकानेर – बीकानेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू
  2. जोधपुर – जोधपुर, पाली, सिरोही, जालौर, बाड़मेर, जैसलमेर
  3. उदयपुर – उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़, राजसमंद
  4. कोटा – कोटा, बूंदी, बारां, झालावाड़।
  5. जयपुर – जयपुर, दोसा, अलवर, सीकर, झुंझुनू
  6. अजमेर – अजमेर, टोंक, भीलवाड़ा, नागौर
  7. भरतपुर (4 जून 2005) – यह राज्य का नवीनतम संभाग तथा नवीनतम नगर निगम (13 जून 2014) है।

भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर राज्य के राजकीय प्रतीक –

खेजड़ी (रेगिस्तान/मरुस्थल का गौरव) – राज्य वृक्ष

वैज्ञानिक नाम प्रोसेटिससीनेरेरिया

रोहिड़ा का फूल – राज्य पुष्प

वैज्ञानिक नाम – टीकामेलाअंडुलेटा

गोडावण (ग्रेट इंडियन बस्टर्ड) – राज्य पक्षी

वैज्ञानिक नाम – क्रायोटिस नाईग्रीसेप्स (शर्मिला पक्षी)

पशु धन श्रेणी में – राज्य पशु – ऊँट

वन्यजीव श्रेणी में – चिंकारा (वैज्ञानिक नाम – गेजेला गेजेला)

केसरिया बालम – राज्य गीत

बास्केटबॉल – राज्य खेल

घूमर – राज्य नृत्य

शास्त्रीय नृत्य – कत्थक

राज्य वाद्य यंत्र – अलगोजा

राष्ट्रीय पोशाक – जोधपुरी कोट

राजस्थान क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य है।

राज्य का क्षेत्रफल 3,42,239 वर्ग किमी. है, जो सम्पूर्ण देश के क्षेत्रफल का 10.41 प्रतिशत है।

राजस्थान भारत का सबसे बड़ा राज्य है।

राज्य का आकार विषमकोणीय चतुर्भुज के समान है राजस्थान भारत के उत्तर-पश्चिमी भाग में स्थित है।

राजस्थान के क्षेत्रफल की दृष्टि से वृहत् जिले-

1 जैसलमेर 38401 वर्ग किमी.

2 बाड़मेर 28387 वर्ग किमी.

3 बीकानेर 27244 वर्ग किमी.

4 जोधपुर 22850 वर्ग किमी.

राजस्थान के क्षेत्रफल की दृष्टि से छोटे जिले-

धौलपुर (3034 वर्ग किमी.)

दौसा (3432 वर्ग किमी.)

राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार

स्थिति राजस्थान भारत के उत्तरी पश्चिमी भाग में 23° 3′ उत्तरी अक्षांश से 30°12′ उत्तरी अक्षांश तथा 69°30′ पूर्वी देशान्तर से 78° 17′ पूर्वी देशान्तर के मध्य स्थित है।

राजस्थान राज्य का अधिकांश भाग कर्क रेखा के उत्तर में स्थित है।

कर्क रेखा राज्य के डूंगरपुर जिले की दक्षिणी सीमा से होती हुई बाँसवाड़ा जिले के लगभग मध्य से गुजरती है। बाँसवाड़ा कर्क रेखा के सर्वाधिक नजदीक शहर है। कर्क रेखा के उत्तर मे होने के कारण जलवायु की दृष्टि से राज्य का अधिकांश भाग उपोष्ण या शीतोष्ण कटिबंध में स्थित।

विस्तार

राजस्थान राज्य की उत्तर से दक्षिण तक की लम्बाई 826 किमी. है जो उत्तर में गंगानगर जिले के कोणा गांव से दक्षिण में बांसवाड़ा जिले के बोरकुण्ड गांव की सीमा तक है।

राज्य की पूर्व से पश्चिम तक चौड़ाई 869 किमी. है जिसका विस्तार पश्चिम में जैसलमेर जिले के कटरा गांव ( सम तहसील) से पूर्व में धौलपुर जिले के सिलाना गांव ( राजाखेड़ा) तक है |

राजस्थान की सीमाएँ

राज्य की उत्तरी और उत्तरी- पूर्वी पंजाब तथा हरियाणा से, पूर्वी सीमा उत्तरप्रदेश एवं मध्यप्रदेश से दक्षिणी पूर्वी सीमा मध्यप्रदेश से तथा दक्षिणी और दक्षिणी- पश्चिमी सीमा क्रमश: मध्य प्रदेश तथा गुजरात से संयुक्त रूप से लगती है।

राजस्थान की पश्चिमी सीमा पाकिस्तान से लगी हुई है।

राज्य की कुल स्थल सीमा 5920 किमी. है।

जिसमें से 1070 किमी. अंतरराष्ट्रीय सीमा (रेडक्लिफ) पाकिस्तान से लगती है।

राजस्थान की अंतरराज्यीय सीमा 4850 किमी. है

गंगानगर बीकानेर, जैसलमेर, बाड़मेर जिले पाकिस्तान की सीमा को स्पर्श करती है।

पाकिस्तान से लगने वाली सार्वधिक लम्बी सीमा जैसलमेर की है और सबसे छोटी सीमा बीकानेर की है

पाकिस्तान की सीमा को स्पर्श करने वाले जिलों का अवरोही क्रम

जैसलमेर               464 किमी.

बाड़मेर                  228 किमी.

श्रीगंगानगर            210 किमी.

बीकानेर                168 किमी.

 

पाकिस्तान के बहावलपुर, (पंजाब प्रांत) मीरपुर, खैरपुर जिले (सिंध प्रांत) जो राजस्थान की सीमा को स्पर्श करते है ।

रेडक्लिफ रेखा (अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखा ) उत्तर में श्रीगंगानगर जिले के हिन्दुमल कोट से प्रारम्भ होकर दक्षिण में बाड़मेर जिले के शाहगढ़ (बाखासर गांव) में समाप्त होती है।

अंतर्राज्यीय सीमाओं में राजस्थान की सर्वाधिक लम्बी अंतर्राज्यीय सीमा मध्य प्रदेश ( 1600 किमी.) से लगती है। तथा कम अंतर्राज्यीय सीमा पंजाब (89 किमी.) राज्य से लगती है।

 

श्री गंगानगर – पंजाब के साथ सर्वाधिक सीमा।

हनुमानगढ़ – पंजाब के साथ न्यूनतम सीमा।

हनुमानगढ़ – हरियाणा के साथ सर्वाधिक सीमा।

जयपुर – हरियाणा के साथ न्यूनतम सीमा।

भरतपुर – उत्तरप्रदेश के साथ सर्वाधिक सीमा।

धौलपुर – उत्तरप्रदेश के साथ न्यूनतम सीमा।

झालावाड़ – मध्यप्रदेश के साथ सर्वाधिक सीमा।

भीलवाड़ा – मध्य प्रदेश के साथ न्यूनतम सीमा

उदयपुर – गुजरात के साथ सर्वाधिक सीमा।

बाड़मेर – गुजरात के साथ न्यूनतम सीमा।

झालावाड़ – सर्वाधिक अन्तर्राज्यीय सीमा रेखा वाला जिला

बाड़मेर – न्यूनतम अन्तर्राज्यीय सीमा रेखा वाला जिला

 

पाकिस्तान के सबसे नजदीक राजस्थान का सीमावर्ती जिला मुख्यालय श्रीगंगानगर है जबकि सीमावर्ती जिलों में सबसे दूर जिला मुख्यालय बीकानेर है।

अन्य राज्यों की सीमाओं से लगने वाले राजस्थान के जिले पंजाब से राजस्थान के दो जिले लगे हुए है- गंगानगर, हनुमानगढ़।

हरियाणा की सीमा से लगे हुए जिले सात है- हनुमानगढ़, चूरू, झुंझुनू, सीकर, जयपुर, अलवर, भरतपुर

उत्तर प्रदेश की सीमा से दो जिले लगे हुए है – भरतपुर, धौलपुर।

मध्य प्रदेश की सीमा से दस जिले लगे हुए है- धौलपुर, करौली, सवाईमाधोपुर, कोटा, बाराँ, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, बाँसवाड़ा व प्रतापगढ़।

गुजरात की सीमा से छ: जिले लगे हुए है- बांसवाड़ा, डुंगरपुर उदयपुर, सिरोही, जालौर व बाड़मेर।

 

राजस्थान के आठ जिले ऐसे है जिनकी सीमा किसी भी राज्य या अन्य देश से नहीं मिलती है – पाली, जोधपुर , नागौर, दौसा, टोंक, बूंदी, अजमेर, व राजसमंद|

पाकिस्तान के सबसे नजदीक राजस्थान का सीमावर्ती जिला मुख्यालय श्रीगंगानगर है जबकि सीमावर्ती जिलों में सबसे दूर जिला मुख्यालय बीकानेर है।

अन्य राज्यों की सीमाओं से लगने वाले राजस्थान के जिले पंजाब से राजस्थान के दो जिले लगे हुए है- गंगानगर, हनुमानगढ़।

हरियाणा की सीमा से लगे हुए जिले सात है- हनुमानगढ़, चूरू, झुंझुनू, सीकर, जयपुर, अलवर, भरतपुर

उत्तर प्रदेश की सीमा से दो जिले लगे हुए है- भरतपुर, धौलपुर।

मध्य प्रदेश की सीमा से दस जिले लगे हुए है- धौलपुर, करौली, सवाईमाधोपुर, कोटा, बाराँ, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, बाँसवाड़ा व प्रतापगढ़।

गुजरात की सीमा से छ: जिले लगे हुए है- बांसवाड़ा, डुंगरपुर उदयपुर, सिरोही, जालौर व बाड़मेर।

राजस्थान के आठ जिले ऐसे है जिनकी सीमा किसी भी राज्य या अन्य देश से नहीं मिलती है – पाली, जोधपुर , नागौर, दौसा, टोंक, बूंदी, अजमेर, व राजसमंद।

 

राजस्थान के साथ अंतर्राष्ट्रीय व अंतर्राज्यीय सीमा के जिले

राज्य        जिले

पंजाब      – मुक्तसर, फाजिल्का (FM )

हरियाणा   – सिरसा, फतेहपुर, हिसार, भिवानी, महेन्द्रगढ़, रेवाड़ी, गुडगाँव, मेवात

उत्तर प्रदेश  – आगरा, मथुरा (आम)

मध्य प्रदेश  – झाबुआ, रतलाम, मंदसौर, नीचम, शाजापुर राजगढ़, गुना, शिवपुरी, श्योपुर, मुरैना

गुजरात   – कच्छ, बनासकांठा, साबरकांठा, अरावली, महीसागर, दाहोद

Wikipedia link

इस मैटर की प्राप्त करने के लिए यहां क्लिक कीजिए

राजस्थान के संभाग व जिले

1 नवम्बर 1956 को राजस्थान में 5 संभाग थे।

सन 1962 में राजस्थान के मुख्यमंत्री मोहनलाल सुखाड़िया ने संभागीय व्यवस्था को समाप्त कर दिया था।

26 जनवरी, 1987 में राजस्थान के तत्कालीन मुख्यमंत्री हरदेव जोशी ने पुनः संभागीय व्यवस्था प्रारम्भ की और उस समय छठे संभाग के रूप में अजमेर को दर्जा दिया गया।

4 जून 2005 को राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने 7 वें संभाग के रूप में भरतपुर संभाग का गठन किया।

वर्तमान में राज्य में 7 संभाग और 33 जिले है।

संभागों का वर्गीकरण

  1. जयपुर संभाग – जयपुर, सीकर, झुंझुनँ,अलवर, दौसा।

जयपुर संभाग में 5 जिले है। जनसंख्या व जनसंख्या घनत्व की दृष्टि से सबसे बड़ा संभाग जयपुर है

  1. कोटा संभाग – कोटा, बूँदी, झालावाड़, बाँरा। जनसंख्या की दृष्टि से सबसे छोटा संभाग।
  2. अजमेर संभाग – अजमेर, भीलवाड़ा, टोंक, व नागौर। यह राज्य का मध्यवर्ती संभाग है।
  3. भरतपुर संभाग – भरतपुर,धौलपुर, करौली, सवाईमाधोपुर जिले शामिल है तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा संभाग है।
  4. बीकानेर संभाग – बीकानेर, श्रीगंगानगर, चूरू व हनुमानगढ़।
  5. उदयपुर संभाग – उदयपुर, बाँसवाड़ा, चित्तौड़गढ़, डुंगरपुर, राजसमंद, प्रतापगढ़।
  6. जोधपुर संभाग – जोधपुर बाड़मेर, सिरोही, जैसलमेर, पाली, जालौर। क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा संभाग है।

राजस्थान के जिलों की स्थिति

1 नवम्बर, 1956 को अर्थात् राजस्थान के पूर्ण एकीकरण के समय राजस्थान में 26 जिले थे।

वर्तमान में राजस्थान में 33 जिले है। प्रतापगढ़ को 26 जनवरी, 2008 को 33वाँ जिला बनाया गया है।

धौलपुर राजस्थान का 27वाँ जिला 15 अप्रैल , 1982 को बना।

10 अप्रैल,1991 को 28वाँ जिला दौसा, 29वाँ जिला बाँरा एवं 30वाँ जिला राजसमंद बना।

12 जुलाई, 1994 को हनुमानगढ़ राज्य का 31वाँ जिला बना।

19 जुलाई, 1997 को करौली राज्य का 32वाँ जिला बनाया गया।

राज्य में वर्तमान में 7 नगर-निगम -जयपुर जोधपुर कोटा, अजमेर, बीकानेर, उदयपुर, भरतपुर।

30 जुलाई, 2008 को अजमेर नगर निगम का तथा अगस्त, 2008 में बीकानेर नगर निगम का गठन किया गया है।

राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार, राजस्थान के संभाग व जिले, भौतिक भाग, सीमाएँ, संभागों का वर्गीकरण, जिलों की स्थिति, राजस्थान के अक्षांश देशांतर आदि की जानकारी

Today: 8 Total Hits: 1080920

8 thoughts on “राजस्थान अवस्थिति एवं विस्तार”

Leave a Comment

Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error: Content is protected !!