शरद जोशी Sharad Joshi

शरद जोशी Sharad Joshi

शरद जोशी Sharad Joshi का जीवन परिचय, शरद जोशी का साहित्यिक परिचय, शरद जोशी की रचनाएं, शरद जोशी के व्यंग्य, शरद जोशी के पुरस्कार एवं मान-सम्मान

जीवन परिचय

पूरा नाम – शरद जोशी

जन्म- 21 मई 1931

जन्म भूमि – उज्जैन, मध्य प्रदेश

मृत्यु – 5 सितंबर 1991

मृत्यु स्थान- मुंबई

पत्नी- इरफाना सिद्धकी

कर्मक्षेत्र- व्यंग्यकार

शिक्षा- होल्कर कॉलेज, इंदौर से स्नातक।

जोशी जी मध्यप्रदेश सरकार के सूचना एवं प्रकाशन विभाग में नौकरी करते थे, परन्तु बाद में इन्होंने नौकरी छोड़कर लेखन को ही जीविकोपार्जन बनाया।

शरद जोशी का साहित्यिक परिचय

रचनाएं

निबंध

जादू की सरकार – 1993

तिलिस्म – 1999

जीप पर सवार इल्लियां

यत्र-तत्र-सर्वत्र – 2000

यथासम्भव – 2005

श्री गणेशाय नमः

भैंसन्ह माह रहता नित बगुला

हम भ्रष्टन के भ्रष्ट हमारे

सरकार का जादू

बिल्लियों का अर्थशास्त्र

दूतावास में चक्कर

हर फूल दिल्लीमुखी

बंसी वाले का पुजारी

साहित्य का महाबली

बुद्धिजीवी

अर्थब्रह्म

नदी में खड़ा कवि

प्रभु हमें डॉक्टरेट से बचा

मधुबाला से टीबी बाला तक

अब मैं रीतिकाल की और लौट रहा हूं

मेरी श्रेष्ठ व्यंग्य रचनाएँ

दूसरी सतह

परिक्रमा

किसी बहाने

रहा किनारे बैठ

नाटक

अंधों का हाथी

एक था गधा उर्फ अलादाद खाँ

संकलनकर्ता-रविन्द्र पुनिया

फिल्म लेखन

क्षितिज

छोटी सी बात

सांच को आंच नही

गोधूलि

उत्सव

टीवी धारावाहिक

यह जो है जिंदगी

मालगुड़ी डेज

विक्रम और बेताल

सिंहासन बत्तीसी

वाह जनाब

देवी जी

प्याले में तूफान

दाने अनार के

यह दुनिया गज़ब की

लापतागंज

शरद जोशी Sharad Joshi के पुरस्कार एवं मान-सम्मान

चकल्लस पुरस्कार।

काका हाथरसी पुरस्कार से सम्मानित किया।

श्री महाभारत हिन्दी सहित्य समिति इन्दौर द्वारा ‘सारस्वत मार्तण्ड’ की उपाधि परिवार पुरस्कार से सम्मानित।

1990 में भारत सरकार द्वारा पद्मश्री की उपाधि से सम्मानित।

शरद जोशी Sharad Joshi का कथन

‘’लिखना मेरे लिए जीवन जीने की तरकीब है। इतना लिख लेने के बाद अपने लिखे को देख मैं सिर्फ यही कह पाता हूँ कि चलो, इतने बरस जी लिया। यह न होता तो इसका क्या विकल्प होता, अब सोचना कठिन है। लेखन मेरा निजी उद्देश्य है।”

आदिकाल के साहित्यकार

भक्तिकाल के प्रमुख साहित्यकार

आधुनिक काल के साहित्यकार

Today: 7 Total Hits: 1082675

Leave a Comment

Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error: Content is protected !!