श, श्र, ष, स, ह

शब्द समूह के लिए एक शब्द (स्थानापन्न शब्द)

कम से कम शब्दों में अधिकाधिक अर्थ को प्रकट करने के लिए वाक्यांश या शब्द-समूह के लिए एक शब्द’ का विस्तृत ज्ञान होना आवश्यक है। ऐसे शब्दों के प्रयोग से वाक्य-रचना में संक्षिप्तता, सुंदरता तथा गंभीरता तो आती ही है, इसके अलावा पढ़ते, सुनते या लिखने में समय की भी बचत होती है। वाक्यांश या शब्द-समूह के लिए एक शब्द जो एक शब्द काम में लेते हैं उसे स्थानापन्न शब्द कहते हैं।

A word for a word set (substitute word in Hindi/One Word in Hindi/Phrases)

(Vakyansh ya shabd samooh ke liye ek shabd – Sthanapann Shabd)

वाक्यांश या शब्द-समूह के लिए एक शब्द – स्थानापन्न

Sthanapann Shabad
Sthanapann Shabad

जो शंका के योग्य हो- शंकास्पद

सौ वस्तुओं का संग्रह- शतक

सौ धाराओं वाली- शतधा

जो सौ बातें एक साथ याद रख सकता है- शतावधानी

सौ वर्षों का समूह- शताब्दी

ऐसा बयान जो शपथ सहित दिया गया हो- शपथपत्र

जो शब्द रहित हो- शब्दहीन अथवा नीरव

जो शरण में आ गया हो- शरणागत

शरण की इच्छा रखने वाला- शरणार्थी

हाथ में पकड़कर चलाया जाने वाला हथियार जैसे तलवार- शस्त्र

बड़ा और लम्बा लट्ठा- शहतीर

जिसके स्मरण मात्र से ही शत्रु का नाश हो अथवा शत्रु का नाश करने वाला- शत्रुघ्न

जो शक्ति का उपासक हो- शाक्त

जिसका कोई आदि और अंत न हो- शाश्वत

शाक, फल और फूल खाने वाला- शाकाहारी या निरामिष

जो शासन करता है- शासक

जिसके ऊपर शासन किया गया हो- शासित

जिस शब्द के एक से अधिक अर्थ हों- श्लिष्ट या श्लेष

सिर पर धारण करने योग्य- शिरोधार्य

शिव का आलय (स्थान)- शिवालय

शिव से प्रसन्न होने वाला- शिवाशुतोष

जो पढ़ा लिखा हो- शिक्षित अथवा साक्षर

शुभ चाहने वाला- शुभेच्छु या शुभाकांक्षी

जिसके हाथ में शूल (त्रिशूल) हो- शूलपाणि

शिव के उपासक- शैव

अनुसंधान के लिए दिया जाने वाला अनुदान- शोधवृत्ति

पति/पत्नी का पिता- श्वसुर

पति/पत्नी की माता- श्वश्रू (सास)

पति/पत्नी का भाई- श्वशुर्य (साला)

जो सुनने योग्य हो- श्रव्य या श्रवणीय

जो सुनाने योग्य हो- श्राव्य

जिसमें श्रद्धा भावना हो- श्रद्धालु


जिसके छह कोण हों- षट्कोण

जिसके छह पद हों (भौंरा)- षट्पद

छह-छह माह में होने वाला- षण्मासिक

सोलह वर्ष की अवस्था वाली स्त्री- षोडशी


जो संकट से ग्रस्त हो- संकटग्रस्त

छूत या संसर्ग से फैलने वाला रोग- संक्रामक

छोटे विचारों वाला- संकीर्णवृत्ति

दो नदियों के मिलने का स्थान- संगम

गीतों की धुन बनाने वाला- संगीतकार

जीवन के चार आश्रमों में अंतिम आश्रम- संन्यासाश्रम

इन्द्रियों को वश में रखने वाला- संयमी

जो समाचार भेजता है- संवाददाता

शर्तों के साथ काम करने का समझौता- संविदा

एक से अधिक चीजें आपस में मिली हों- संश्लेषण

जिसकी गलतियाँ या कमियाँ ठीक की गई हों- संशोधित

संहार करने वाला या मारने वाला- संहारक

स्तन का दूध- स्तन्य

काँच जैसा मूल्यवान पारदर्शी पत्थर- स्फटिक

स्त्री के स्वभाव जैसा- स्त्रैण

जो धरती पर निवास करता हो- स्थलचर या थलचर

गतिहीन रहने वाला- स्थावर

सदा रहने वाला- स्थायी

दूसरे के स्थान पर काम करने वाला- स्थानापन्न

किसी काम में दूसरे आगे बढ जाने की इच्छा- स्पर्धा

सत्य स्पष्ट बात कहने वाला- स्पष्टवादी या स्पष्टवक्ता

पसीने से उत्पन्न जीव (जैसे जूँ आदि)- स्वेदज

किसी संस्था या व्यक्ति के पचास वर्ष पूरे करने के उपलक्ष्य में होने वाला उत्सव- स्वर्ण जयंती

जिसको सिद्ध करने के लिए अन्य प्रमाणों की जरूरत न हो- स्वयंसिद्ध अथवा स्वतः प्रमाण

अपनी ही इच्छानुसार पति का वरण करने वाली- स्वयंवरा

जो स्वयं भोजन बनाकर खाता हो- स्वयंपाकी

जो अपने आप उत्पन्न हुआ हो- स्वयंभू

स्वेच्छा से दूसरों की सेवा करने वाला- स्वयंसेवक

जो अपने ही अधीन हो- स्वाधीन

अपने द्वारा अनुभव किया हुआ- स्वानुभूति

जो अपना ही हित सोचता हो- स्वार्थी

आजीविका आदि की दृष्टि से अपने ही ऊपर निर्भर रहने वाला- स्वावलंबी

जो अपनी ही इच्छा से काम करता हो- स्वेच्छाचारी

अपनी इच्छा के अनुसार लिया गया- स्वैच्छिक

जिसका चरित्र अच्छा हो- सच्चरित्र

जिस पुस्तक पर ज़िल्द हो- सज़िल्द

सात सौ दोहों का समूह- सतसई

जो सदा से चला आ रहा हो- सनातन

उसी समय में होने वाला या रहने वाला- समकालीन

एक समय में रहने वाले लोग, स्थितियां आदि- समसामयिक

जो समान आयु का हो- समवयस्क

जो सभी को समान दृष्टि से देखता हो- समदर्शी

किसी समस्या का निराकरण- समाधान

साहित्यिक गुण-दोषों की विवेचना करने वाला- समीक्षक या समालोचक या आलोचक

एक ही माँ से उत्पन्न भाई या बहन- सहोदर या सहोदरा

अन्य लोगों के साथ गाया जाने वाला गीत- सहगान

साथ पढ़ने वाला- सहपाठी

जो दूसरों की बात सहन कर सकता हो- सहिष्णु या सहनशील

किसी को कष्ट मंे देखकर स्वयं दुःखी होना- सहानुभूति

सब कुछ जानने वाला- सर्वज्ञ

वह स्त्री जिसका पति जीवित हो- सधवा

जो एक ही जाति के हों- सजातीय

रस से परिपूर्ण- सरस

जो सराहना योग्य हो- सराहनीय

साथ काम करने वाला- सहकर्मी

सद् आचरण रखने वाला- सदाचारी

अन्न अथवा भोजन बांटना- सदावर्त

ज्ञान देने वाली देवी- सरस्वती

जो अपनी पत्नी के साथ हो- सपत्नीक

परिवार के साथ- सपरिवार

जनप्रतिनिधि सभा का सदस्य- सभासद या विधायक या सांसद

सत्य के लिए आग्रह- सत्याग्रह

जो सत्य बोलता हो- सत्यवादी अथवा सत्यभाषी

जिसने अभी-अभी स्नान किया हो- सद्यस्नात (पुरुष) तथा सद्यस्नाता (स्त्री)

जिसने अभी-अभी बच्चे को जन्म दिया हो- सद्यप्रसूता

न बहुत ठण्डा न बहुत गर्म- समशीतोष्ण

जो सव्य (बाएं) हाथ से भी काम कर लेता हो- सव्यसाची

जो सब कुछ खाता हो- सर्वभक्षी

सब कुछ पाने वाला- सर्वलब्ध

सबको प्रिय लगने वाला- सर्वप्रिय

जो सब जगह विद्यमान हो- सर्वव्यापी या सर्वव्यापक

जो सबकुछ करने की शक्ति रखता हो- सर्वशक्तिमान

जिसके हजार भुजाएं हों- सहस्रबाहु

जीवन को आघात पहुँचाने वाला- सांघातिक

जिसमें सभी का मेल हो जाता है- सांमजस्य

संसार से संबंधित- सांसारिक या ऐहिक

आकार से युक्त (मूर्तिमान)- साकार

व्यर्थ न जाने वाला- सार्थक

मांसयुक्त भोजन- सामिष

सप्ताह में एक बार होने वाला- साप्ताहिक

जिसका अस्तित्व अन्य वस्तु की अपेक्षा रखता हो- सापेक्षिक या सापेक्ष

वर्तमान समय या ठीक समय पर होने वाला- सामयिक

सभी देशों या स्थानों से संबंध रखने वाला- सार्वदेशिक

रथ हाँकने वाला- सारथि

जो समस्त देशों या स्थानों से संबंधित हो- सार्वभौम या सार्वभौमिक

सभी लोगों के लिए- सार्वजनिक

जो पढ़ना-लिखना जानता है- साक्षर

साहित्य से संबंध रखने वाला- साहित्यकार

सृजन करने की इच्छा- सिसृक्षा

जो काम करने में आसान हो- सुकर

जिसकी ग्रीवा सुंदर हो- सुग्रीव

जिसका रंग सोने जैसा हो- सुनहरा

सोने का पर्वत- सुमेरू

जो सरलता से प्राप्त हो- सुलभ

सधवा रहने की दशा या अवस्था- सुहाग

जो सोया हुआ हो- सुषुप्त

किसी बात को बहुत ही बारीकी से विचार करने वाला- सूक्ष्मदर्शी

सौ वस्तुओं का संग्रह- सैंकड़ा या शतक

महल का ऊपरी भाग- सौधशिखर


जिस स्त्री की चाल हंस के समान हो- हंसगामिनी

विवाद का आश्चर्यसूचक शब्द- हन्त

हमला करने वाला- हमलावर

सेना का वह भाग जो सबसे आगे हो- हरावल

हल्दी के रंग के योग से होने वाली कपड़े की छपाई- हलकारी

हवन से संबंधित सामग्री- हवि या हविष्य

ऐसा बयान जो शपथ सहित दिया गया हो- हलफनामा

दूसरे के काम में दखल देना- हस्तक्षेप

जिसे अपने हाथ में ले लिया हो- हस्तगत

हाथ से कार्य करने का कौशल- हस्तलाघव

वह लेख जो हाथ से लिखा गया हो- हस्तलिखित

जो एक से दूसरे के हाथ में आया हो- हस्तांतरण

जो बात हृदय में अच्छी तरह बैठ गई हो- हृदयंगम

जिसे देखकर हृदय पिघल जाए- हृदयद्रावक

जो हृदय को आकृष्ट करे- हृदयावर्जक

ऐसा दुःख जो हृदय को चीर डाले- हृदयविदारक

हृदय को उन्मत्त करने वाला- हृदयोन्मादी

खुशी व आनन्द से निकले आँसू- हर्षाश्रु

हृदय से संबंधित- हार्दिक

जिस पर हँसी आती हो या जो हँसी का पात्र हो- हास्यास्पद

दूसरों का हित चाहने वाला- हितैषी या हितेच्छु

जो हिंद और एशिया के मेल से बना हो- हिंदेशियन

जो बर्फ से ढका हुआ हो- हिमाच्छन

बर्फ बना हुआ या बर्फ के रूप में बना हुआ- हिमीभूत

किसी संस्था या व्यक्ति के साठ वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में होने वाला उत्सव- हीरक जयंती

जिन्होंने दूसरों के लिए अपना बलिदान किया हो- हुतात्मा (शहीद)

सोने के समान चोटियों वाला पहाड़- हेमाद्रि

यज्ञ में आहुति देने वाला- होता

न टलने वाली घटना/अवश्यंभावी घटना/भाग्याधीन- होनहार

यज्ञ में आहुति देने वाला- होमाग्नि

होली के शुरू के आठ दिन- होलाष्टक

निम्नलिखित अक्षरों से बनने वाले स्थानापन्न शब्दों को जानने के लिए इन्हें स्पर्श कीजिए-

अ से औ तक

क, क्ष, ख, ग, घ

च, छ, ज, ज्ञ, झ

ट, ठ, ड, ढ

त, त्र, थ, द, ध, न

प, फ, ब, भ, म

य, र, ल, व

श, श्र, ष, स, ह

अतः हमें आशा है कि आपको यह जानकारी बहुत अच्छी लगी होगी। इस प्रकार जी जानकारी प्राप्त करने के लिए आप https://thehindipage.com पर Visit करते रहें।

Today: 1 Total Hits: 1080906
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error: Content is protected !!