च, छ, ज, ज्ञ, झ

शब्द समूह के लिए एक शब्द (स्थानापन्न शब्द)

कम से कम शब्दों में अधिकाधिक अर्थ को प्रकट करने के लिए ‘वाक्यांश या शब्द-समूह के लिए एक शब्द’ का विस्तृत ज्ञान होना आवश्यक है। ऐसे शब्दों के प्रयोग से वाक्य-रचना में संक्षिप्तता, सुंदरता तथा गंभीरता तो आती ही है, इसके अलावा पढ़ते, सुनते या लिखने में समय की भी बचत होती है। वाक्यांश या शब्द-समूह के लिए एक शब्द जो एक शब्द काम में लेते हैं उसे स्थानापन्न शब्द कहते हैं।

A word for a word set (substitute word/One Word/Phrases)

(Vakyansh ya shabd samooh ke liye ek shabd – Sthanapann Shabd)

वाक्यांश या शब्द-समूह के लिए एक शब्द – स्थानापन्न

Sthanapann Shabad
Sthanapann Shabad

जिसके सिर पर चंद्रमा है (शिव)- चंद्रचूड़

जिसके ललाट (माथे) पर चन्द्रमा हो- चन्द्रशेखर

जिसके हाथ में चक्र हो- चक्रपाणि

वह कृति जिसमें गद्य और पद्य दोनों हों- चंपू

पैदल, अश्व, रथा तथा हाथी सेना का संगठन- चतुरंगिणी

चक्र के रूप में घूमती हुई चलने वाली हवा- चक्रवात

ब्याज का वह प्रकार जिसमें मूल ब्याज पर भी ब्याज लगता है- चक्रवृद्धि ब्याज

चार भुजाओं वाला- चतुर्भुज

पशुओं की पूँछ के लम्बे बालों से बना पंखा- चंवर

कुम्हार जिस डण्डे से चाक को घुमाता है- चकेठ

आँख में बनने वाली कीचड़- चक्षुर्मल

पत्थर का अत्यधिक विशाल खण्ड- चट्टान

जो चट्टान से सम्बद्ध रखता हो- चट्टानी

चार शाखाओं वाला- चतुःशाख

चन्द्रमास पक्ष की चैथी तिथि- चतुर्थी

चन्द्रमास पक्ष की चैदहवीं तिथि- चतुर्दशी

चैदह पदों की कविता- चतुर्दश-पदी

चालीस पदों का समूह- चालीसा

ऐसी सवारी जिसे चार कहार उठाकर चलते हैं- चतुर्दोल या पालकी

कार्य करने की इच्छा- चिक्कीर्षा

लंबे समय तक जीने वाला- चिरंजीवी

जो चिरकाल से चला आया है- चिरंतन

जो बहुत समय तक ठहर सके- चिरस्थायी

चिंता (चिंतन) करने योग्य बात- चिंतनीय/चित्य

जिस पर चिह्न लगाया गया हो- चिह्नित

चार पैरों वाला- चौपाया अथवा चतुष्पद

जहाँ चार रास्ते मिलते हों- चौराहा

बढिया, मजेदार और हास्यास्पद बात या उक्ति- चुटकुला

चार चरण का प्रसिद्ध मात्रिक छन्द- चौपाई

तेल की मैल- चीकट

चमड़े, बाल आदि के जलने से उत्पन्न दुर्गन्ध- चिरायंध

सदैव स्मरण रखने योग्य- चिरस्मरणीय


जहाँ विद्यार्थी निवास करते हैं- छात्रावास

जो गुप्त रूप से निवास कर रहा हो- छद्मवासी

दूसरों के केवल दोषों को खोजने वाला- छिद्रान्वेषी

पत्थर को गढ़ने वाला औजार- छेनी


जीने की प्रबल इच्छा- जिजीविषा

जानने की इच्छा रखने वाला- जिज्ञासु

पेट की आग जो खाना पचाती है- जठराग्नि

एक स्थान से दूसरे स्थान पर चलने वाला- जंगम

बारात ठहरने का स्थान- जनवासा

जो जल बरसाता हो- जलद

जो जल से उत्पन्न हो- जलज

वह पहाड़ जिसके मुख से आग निकले- ज्वालामुखी

जल में रहने वाला जीव- जलचर

जन्म से सौ वर्ष का समय- जन्मशती

जो जन्म से अंन्धा हो- जन्मान्ध

जनता द्वारा चलाया जाने वाला तंत्र- जनतंत्र

उम्र में बड़ा- ज्येष्ठ

जो चमत्कारी क्रियाओं का प्रदर्शन करता हो- जादूगर

जिसने आत्मा को जीत लिया हो- जितात्मा

इन्द्रियों को वश में करने वाला- जितेन्द्रिय

किसी के जीवन-भर के कार्यों का विवरण- जीवन-चरित्र

जो जीतने के योग्य हो- जेय

जेठ (पति का बड़ा भाई) का पुत्र- जेठोत

स्त्रियों द्वारा अपनी आन बचाने के लिए किया गया सामूहिक अग्नि-प्रवेश- जौहर


ज्ञ

जो ज्ञान प्राप्त करने की इच्छा रखता हो- ज्ञानपिपासु


बहुत गहरा तथा बहुत बड़ा प्राकृतिक जलाशय- झील

पहाड़ से नीचे की ओर गिरने वाला जल प्रवाह- झरना

जिसका मुण्डन संस्कार न हुआ हो- झंडूला

पालकी के ऊपर डाला जाने वाला कपड़ा- झंपरिया

थोड़े समय के लिए हल्की नींद- झपकी

जिसके शरीर के चारों ओर बाल हों- झबरीला

निम्नलिखित अक्षरों से बनने वाले स्थानापन्न शब्दों को जानने के लिए इन्हें स्पर्श कीजिए-

अ से औ तक

क, क्ष, ख, ग, घ

च, छ, ज, ज्ञ, झ

ट, ठ, ड, ढ

त, त्र, थ, द, ध, न

प, फ, ब, भ, म

य, र, ल, व

श, श्र, ष, स, ह

अतः हमें आशा है कि आपको यह जानकारी बहुत अच्छी लगी होगी। इस प्रकार जी जानकारी प्राप्त करने के लिए आप https://thehindipage.com पर Visit करते रहें।

Today: 1 Total Hits: 1081610
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
error: Content is protected !!